ईश्वर का निरंतर स्मरण करने से प्रथम तो हमारी वाणी पवित्र होती है Our speech becomes pure first by constantly remembering God

(ईश्वर का निरंतर  स्मरण करने से प्रथम तो हमारी वाणी पवित्र होती है  Our speech becomes pure first by constantly remembering God)भगवान राम द्वारा भगवान नाम चारण द्वारा भगवान राम द्वारा कठिन से कठिन लोगों का निदान संभव है यह बात पूर्व की ओर हिमालय की ओर  करने वाले लोगों ने सही है यह बात बिल्कुल सही देखती है कि भगवान के नाम से व्यक्ति का मन शुद्ध होता है मन पवित्र होता है और उसके अंदर ईश्वरी सकता परमात्मा की उर्जा आने लगती है भगवान के द्वारा प्राचीन काल में भगवान का नाम स्मरण किस देश का और मंगलकारी है नाम उच्चारण सिलवानी की अपेक्षा अधिक नाम लेना या नहीं आता शुद्धता का काम है जैसे दूध जाती है हमारे अंतर्मन में उतर जाती है नाम नाम की तरंगे जाती है इससे हमारा स्वभाव और स्वभाव अधिक चेतन शुद्ध और पवित्र होता है नाम जप से होते हैं

(Our speech becomes pure first by constantly remembering God. Our speech becomes pure first by constantly remembering God) It is possible to diagnose the toughest people by Lord Rama by Lord Rama by Lord Rama. The people who have done it rightly see that the person's mind is pure in the name of God, the mind is pure and the energy of God can begin to come in him. Remembering the name of the Lord in ancient times by Gawan is the name of which country and the name is more pronounced than the name Silvani or not, it is a work of purity as milk goes in our inner self, the name is floated; And the nature is more conscious pure and pure. The names are by chanting.

Comments

Popular posts from this blog

Tula Rashifal 2020 Vivah Yog Libra Horosocpe 2020 Vivah Yog Madanah

Kark Rashifal 2020 Vivah Yog Cancer Horosocpe 2020 Vivah Yog 2020 Kark Rashifal Vivah Yog 2020

j naam wale log kaise hote hai,ज नाम वाले लोग कैसे होते है,j naam ki rashi kya hai,j naam wale logo ka bhavishya,j naam wale logo ka swbhaw