Garibi Se Amer kaise bane ? Madanah #garib #amir #howtorech

 गरीब से अमीर कैसे बने भारत    घनी आबादी का देश है जहां पर गरीब होना  लेकिन भारतीय संस्कृति जो पूर्ण रूप से गरीबी की इसमें कोई जगह नहीं है जो बड़ी सरलता से सहजता से एक सरल जीवन जी ने के लिए 
हमें मार्ग प्रदर्शित करती है जिसमें पड़ोसी के साथ अच्छा व्यवहार एक सामूहिक परिवार परिवारों से उलझा एक ताना-बाना एक दूसरे की मदद आस्था विश्वास और हर दिन त्यौहार जो दर्शाता है की  की विविधताओं में एकता में कैसे रहा जाता है और त्याग समर्पण यह सभी चीजें कितनी महत्वपूर्ण है लेकिन आज किस आधुनिक और अंधी दौड़ में हम इतना डूब चुके हैं कि क्या वाकई में हम गरीबी कुछ समझ रहे हैं कि गरीब होना क्या होता है क्योंकि हर एक व्यक्ति किसी न किसी रूप में गरीब है हर एक व्यक्ति किसी न किसी रूप में अमीर है क्योंकि प्रत्येक व्यक्ति के पास कोई ऐसी संपदा होती है जिसका इस दुनिया में उनके अतिरिक्त और कोई भी व्यक्ति के पास वह कला संपदा ज्ञान नहीं होता है लेकिन हम इन सभी के बारे में न सोच कर दूसरों से तुलना करके अपने वर्तमान को अंधकार की ओर धकेल देते हैं यहां यह भी समझ सकते हैं कि जो आपके पास है उसमें संतुष्ट रहना और सकारात्मक प्रयास करते रहना मानव का स्वभाव होना चाहिए और कर्तव्य भी होना चाहिए क्योंकि हम अपने अधिकारियों की ओर ज्यादा सजग होते हैं कर्तव्य और दायित्व के प्रति कम सजग रहते हैं और इसी का परिणाम है गरीबी जो हर एक स्तर पर हो सकती हैं किसी के चेहरे पर से नहीं आप यह जज कर सकते कि वह गरीब है या उसकी गाड़ी घर मकान बंगला इनसे भी आप नहीं जज कर सकते क्योंकि गरीबी जीवन में किसी न किसी स्तर पर आपको जरूर मिलती है इसलिए गरीबी से बचने के लिए अपने मन मस्तिष्क को सकारात्मक रखें तुल्ला बिल्कुल ना करें जो आपके पास है उसमें संतुष्ट रहना सीखें तभी आप पाएंगे इस गरीबी से लड़ पाएंगे गरीबी से प्राप्त अनुभव को जीवन भर अपने पास रखें क्योंकि वह फिर आपको कभी नहीं मिलने वाला अनुभव है जब अपने पराए हो जाते हैं वह भी केवल गरीबी में ही सिद्ध हो सकता है यह संभव हो सकता है आपके पास धन होने पर सब आपके आगे पीछे होंगे पर गरीबी में आपके पास कोई नहीं होगा तो क्या आप इसके लिए तैयार हैं अगर हैं तो उन अनुभव को हमेशा अपने साथ रखें अपने पास रखें